हनीट्रैप की पेन ड्राइव रख फंसे कमलनाथ, एसआईटी ने जारी किया नोटिस, दो जून को पूछताछ भी करेगी

भोपाल:- एमपी के पूर्व सीएम कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पूर्व मंत्री उमंग सिंघार को फंसते देख कमलनाथ ने कहा था कि मेरे पास भी हनीट्रैप की पेन ड्राइव है। इसके बाद उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं। उनका इशारा था कि इस पेन ड्राइव में बीजेपी नेताओं के वीडियो हैं। वहीं, एमपी हनीट्रैप मामले की जांच कर रही एसआईटी ने कमलनाथ को नोटिस थमा दिया है।

एसआईटी नोटिस जारी कर कमलनाथ से पेन ड्राइव मांगी है। साथ ही एसआईटी इस मामले में कमलनाथ से दो जून को पूछताछ करने के लिए श्यामला हिल्स स्थित आवास पर भी पहुंचेगी। एसआईटी के नोटिस के बाद कमलनाथ की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। वहीं, कांग्रेस अब बचाव के मुद्रा में है।

कमलनाथ ने क्यों कहा था ऐसा

दरअसल, कुछ दिन पहले पूर्व मंत्री उमंग सिंघार की महिला मित्र ने भोपाल में खुदकुशी कर ली थी। वह मोहाली की रहने वाली थी। बताया जा रहा है कि उमंग सिंघार उससे कुछ दिन बाद शादी करने वाले थे। खुदकुशी के अगले दिन पुलिस ने उमंग सिंघार के ऊपर केस दर्ज कर लिया था। उसके बाद कांग्रेस बचाव में आ गई थी। कमलनाथ ने इसी पर कहा था कि हमारे पास भी हनीट्रैप की पेन ड्राइव है। उसी बयान को लेकर विवाद बढ़ा है।

क्या है हनीट्रैप केस

गौरतलब है कि कमलनाथ की सरकार में ही एमपी में हनीट्रैप उजागर किया हुआ था। इस मामले पांच महिलाएं और कुछ पुरुष बड़े अधिकारियों और नेताओं को वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहे थे। इंदौर नगर निगम के इंजीनियर हरभजन सिंह से ये महिलाएं तीन करोड़ रुपये मांग रही थी। हरभजन सिंह की शिकायत पर ही ये कार्रवाई हुई थी। उसके बाद हरभजन सिंह के साथ महिलाओं का वीडियो लीक हो गया था। इस दौरान एक बीजेपी नेता और बड़े आईएएस अफसर का भी वीडियो लीक हुआ था।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +918962423252

पानी नही आने की वजह से जिंदा इंसान को मुर्दा बनाकर नगर में निकली गई अर्थी     |     मतदान को लेकर ग्रामिण मतदाताओ मे दिखा उत्साह     |     आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरण करने के मामले में न्यायालय ने किया 4 आरोपियों को दोषमुक्त     |     जैन पाठशाला प्रारंभ, जैन समाज द्वारा धार्मिक पाठशाला प्रारंभ     |     जवाहर नवोदय विद्यालय के प्राचार्य तिलक सिंह की सेवानिवृत्ति पर विदाई समारोह का हुआ आयोजन     |     कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने, पुलिस कप्तान के साथ मतदान केन्द्र का जायजा लिया     |     अलीराजपुर नगर की ऐसी भी आंगनबाड़ी है। जो दूर होने व बीच मे नदी होने पर माता पिता बच्चों को भेजने में डरते है। जानिये कहा है और कोनसे वार्ड में खास खबर में     |     अज्ञात कारणों के चलते नाबालिक ने लगाई फासी     |     जावरा के गौ तस्करों को सजा, अवैध रूप से गाय व केड़ो को कत्लखाने ले जाने वाले तीन आरोपियों सम को हुई सज़ा     |     सोंडवा महाविद्यालय में नवीन प्रवेशित विद्यार्थियों हेतु इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन तथा कक्षाओं का प्रारम्भ     |    

error: Content is protected !!