दलित वर्गो को घर-घर शोचालय योजना का लाभ नही मिल रहा-श्री पटेल

 
general hospital
 
general hospital
 
ग्राम पंचायत बरझर सरपंच-सचिव की तानाशाही से दलित वर्ग परेशान

आलीराजपुर:- जिला कांग्रेस कमेटी के पुर्व जिलाध्यक्ष महेष पटेल ने प्रेस विज्ञप्ति मे बताया कि देष के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के घर-घर शोचालय, ओडीएफ मुक्त भारत एवं स्वच्छ भारत-स्वस्थ्य भारत का नारा व सपना आदिवासी बाहुल्य जिले मे नाकाम साबित हो रहा है। जिले मे ओडिएफ योजना का खुलेआम माखौल उडाया जा रहा है और ओडिएफ अभियान भी कागजों पर चलाया गया है। इस योजना का लाभ गरिब वर्गो को नही मिल रहा है, ग्राम बरझर के सरपंच-सचिव तानाशाही कर दलितो को योजनाओं से वंचित किया जा रहा है। जिसके चलते भारत शासन की महत्वपुर्ण योजना दम तोडती हुई नजर आ रही है। इस मामले को लेकर केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार का दलित विरोधी चेहरा सामने आ गया है। श्री पटेल ने बताया कि एक और प्रधानमंत्री मोदीजी एवं प्रदेष के मुख्यमंत्री देश में स्वच्छता अभियान के तहत् घर-घर शौचालय बनाने की बात कर रहे है, परंतु यहाँ तो इस अभियान की जमीनी हकीकत कुछ और ही बयान करती है। श्री पटेल ने बताया कि आजाद नगर के ग्राम पंचायत बरझर के लोगो ने उनके घरो मे शौचालय नहीं होने को लेकर एक आवेदन सौपा है। ग्रामवासियों ने जनसुनवाई मे कलेक्टर के नाम आवेदन सौपकर उचित कार्रवाई की मांग की है। आवेदन मे उन्होने बताया कि ग्राम बरझर के हरिजन मोहल्ला, स्कूल फलिया एवं रातिधारी फलिया के करीब अनुसूचित जाति 40 परिवार, जिनकी 250 जनसंख्या है। इन रहवासियों के यहां पर एक भी शौचालय नहीं हैं। इन मोहल्लों में हमारे करीब 40 परिवार के मकान होकर हमारे यहाँ करीब 250 जनसंख्या निवासरत है। वर्षों पहले एक शौचालय नदी में बनवाया था, वह बाढ़ के पानी से नदी में बह गया। अनेक बार ग्राम के सरपंच व सचिव से यहाँ शौचालय बनाने की मांग की परंतु सरपंच सचिव मनमानी करते है और हमें धमकाते है। हमारे परिवार को शौच कार्य मे बहुत परेषानी आ रही है। हमें खुले मे शौच के लिये मजबुर होना पड़ रहा है। बाहर खुले में अन्य खेत में शौच करने जाते है तो हमें खेत मालिक रात-दिन भगाते है। सरपंच, सचिव सहित अन्य कर्मचारी हमसे झुठे साईन करवाकर लेकर गए कि घर-घर में शौचालय बनाए जाएंगे।

सरपंच-सचिव के भ्रष्टाचार की जाँच की जाए

बरझर निवासियो ने सौपे गए आवेदन मे बताया कि हम लोग मजदूरी कर गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन करते है। हमारे ग्राम की सरपंच सेजल पिता हिमसिंह, जिसका विवाह लगभग 4 साल पूर्व हो चुका है और वह अलीराजपुर पुलिस लाईन में अपने पति के साथ रहती है, उसका पति एसपी साहब का ड्राईवर है। इस प्रकार से सरपंच का समस्त कार्य उसके पिता हिमसिंह संपादित करता है। हमारे गाँव में सरपंच एवं उसके पिता मनमानीपूर्वक कार्य किए जा रहे है। उनके द्वारा प्रधानमंत्री आवास के मकान वास्तविक हितग्राहीयों को ना दिये जाकर अपात्र व्यक्तियों को दिये जा रहे है। हम आवेदकगण अत्यंत गरीब होकर हमें उक्त आवासों की सख्त आवष्यकता है। हमारे द्वारा मांग किये जाने पर उनके द्वारा हमें डराया धमकाया जाता है और मारपीट की जाती है। ग्राम बरझर में कई व्यक्ति है, जिन्हें दो बार प्रधानमंत्री आवास का लाभ मिल चुका है। उदाहरण के लिये नटवर पिता सकरा को दो बार इस योजना का लाभ मिल चुका है। हम आवेदकगण में से कई के नाम काफी समय से सूची में आ चुके है, लेकिन सरपंच एवं उसके पिता द्वारा लाभ नहीं दिया जा रहा है। उनके द्वारा हमारे साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है, जिसकी भरपाई करना मुष्किल है। ग्रामवासियो ने बताया कि सरपंच एवं उसके पिता द्वारा पंचायत में भारी हेराफेरी व भ्रष्टाचार किया जा रहा है, जिसकी जाँच की जाकर हमें हमारे हक के आवास का लाभ दिलाये जाने की कृपा करें। इस अवसर पर ग्राम बरझर के मोहन पिता मनसुख, नानसिंह पिता सबुर, भारता पिता भयड़ा, कैलाष पिता मोहन, बाबु पिता कासिया, विजय पिता नरू, रजलीबाई पति मनु, अषोक पिता राजु, मुकेष पिता बच्चु, विनोद पिता गलका, दिनेश पिता जठिया, प्रकाश, नानसिंह आदि मोजुद थे।

फोटो- श्री पटेल को आवेदन सोपते हुए ग्रामवासी।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +918962423252

पानी नही आने की वजह से जिंदा इंसान को मुर्दा बनाकर नगर में निकली गई अर्थी     |     मतदान को लेकर ग्रामिण मतदाताओ मे दिखा उत्साह     |     आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरण करने के मामले में न्यायालय ने किया 4 आरोपियों को दोषमुक्त     |     जैन पाठशाला प्रारंभ, जैन समाज द्वारा धार्मिक पाठशाला प्रारंभ     |     जवाहर नवोदय विद्यालय के प्राचार्य तिलक सिंह की सेवानिवृत्ति पर विदाई समारोह का हुआ आयोजन     |     कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने, पुलिस कप्तान के साथ मतदान केन्द्र का जायजा लिया     |     अलीराजपुर नगर की ऐसी भी आंगनबाड़ी है। जो दूर होने व बीच मे नदी होने पर माता पिता बच्चों को भेजने में डरते है। जानिये कहा है और कोनसे वार्ड में खास खबर में     |     अज्ञात कारणों के चलते नाबालिक ने लगाई फासी     |     जावरा के गौ तस्करों को सजा, अवैध रूप से गाय व केड़ो को कत्लखाने ले जाने वाले तीन आरोपियों सम को हुई सज़ा     |     सोंडवा महाविद्यालय में नवीन प्रवेशित विद्यार्थियों हेतु इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन तथा कक्षाओं का प्रारम्भ     |    

error: Content is protected !!