आरईएस विभाग की उदासिनता से जिले में हो रहे घटिया किस्म के निर्माण कार्य

विधायक पटेल ने तालाब, चैक डेम निर्माण कार्य का किया निरीक्षण

आलीराजपुर:- पंचायत ग्रामीण विभाग के अन्तर्गत स्वीकृत तालाब, चैक डेम, स्टाप डेम सहित सभी निर्माण कार्यो में आरईएस विभाग द्वारा निर्माण की सामग्री घटिया किस्म की लगाई जा रही हैं और किसी भी निर्माण कार्यो में काली गिट्टी का उपयोग नही किया जाकर बड़े-बड़े बोल्टर (पत्थर) का उपयोग किया जा रहा है। विधायक मुकेेश पटेल ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि गत रविवार को क्षेत्र भ्रमण के द्वौरान विकास खण्ड अलीराजपुर के ग्राम अजंदा में आरईएस विभाग द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्य का निरीक्षण किया गया। जिसमें यह पाया गया कि निर्माण कार्य में घटिया किस्म की सामग्री का उपयोग किया जा रहा हैं और स्थानिय ग्रामीणजन ने भी इन निर्माण कार्यो के सबंध में विधायक पटेल को शिकायत की गई है कि कार्य एजेंसी आरईएस होते हुए भी अन्य बिना किसी आधार के प्रायवेट ठेकदारो को मनमानी तरीके से ईई आरईएस अलीराजपुर द्वारा कार्य करवाया जा रहा है। संबंधित उप यंत्री, सहायक यंत्री द्वारा भी चल रहे निर्माण कार्यो का निरीक्षण नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण प्रायवेट ठेकेदारों द्वारा गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य किया जा रहा है। गुणवत्ताहीन व घटिया किस्म के निर्माण कार्य होने से शासकीय कार्य में वित्तीय अनियमित्ता की जा रही है। साथ ही विधायक पटेल ने बताया कि विगत दिनांक सोण्डवा क्षेत्र के ग्राम बेजड़ा में आरईएस विभाग द्वारा तालाब का निर्माण मजदूरों के बजाय मषीनो (जेसीबी, पोखलेन) द्वारा कराया जाने के संबंध में स्थानिय ग्रामीणो द्वारा जिले के प्रभारी मंत्री और जनसुनवाई में आवेदन दिया जाकर षिकायत की गई थी । जिस पर जिला प्रषासन द्वारा अभी तक कोई भी कार्यवाही नही की गई है। इससें यह स्पष्ट होता है कि जिला प्रषासन द्वारा भी घटिया किस्म और गुणवत्ताहीन निर्माण कार्यो को बढ़ावा दिया जा रहा है। विधायक पटेल ने शासन से मांग की है कि जिले में आरईएस विभाग द्वारा निर्माण कराए गये सभी कार्यो की जांच की जावे और संबंधित ईई, सहायक यंत्री और उपयंत्री के खिलाफ शासकीय कार्यो में वित्तीय अनियमित्ता किये जाने की कार्यवाही की जावे ।

भूमिपूजन में जनप्रतिनिधियों को अनदेखा किया जा रहा हैं

विधायक पटेल ने बताया है कि पंचायत ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत निर्माण कार्याे की कार्य एजेंसी आरईएस विभाग द्वारा स्वीकृत निर्माण कार्यो की भूमिपूजन कार्यक्रमों में ईई द्वारा स्थानिय जनप्रतिनिधियों को नही बुलाया जाता है।

यहा तक की ग्राम पंचायत के सरपंच को भी इसकी जानकारी नहीं दी जाती है कि आपकी ग्राम पंचायत में आरईएस विभाग द्वारा निर्माण कार्य प्रारंभ किया जा रहा है। जिले में इस प्रकार से कई निर्माण कार्य बिना जनप्रतिधियों की उपस्थिति के भूमिपूजन कर प्रारंभ करा दिये गए है। इस संबंध में जिला प्रषासन को संज्ञान में लेना चाहिए और यदि विभाग ने जनप्रतिनिधियों को नही बुलाया गया है या बिना जनप्रतिनिधियों को अवगत कराये कार्य प्रारंभ करा दिये गए है तो ईई आरईएस पर तत्काल कार्यवाही की जानी चाहिए।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +918962423252

दो साल बाद हज के मुकद्दस सफर पर रवाना हुए जायरीन ,समाजजनों ने ईस्तकबाल कर दी विदाई नूर मोहम्मद मकरानी सपत्नी मुकद्दस हज के लिए रवाना हुए      |     भगवान श्री जगन्नाथ जी रथयात्रा महोत्सव     |     सोंडवा महाविद्यालय में नवीन प्रवेशित विद्यार्थियों हेतु इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन तथा कक्षाओं का प्रारम्भ     |     पानी नही आने की वजह से जिंदा इंसान को मुर्दा बनाकर नगर में निकली गई अर्थी     |     मतदान को लेकर ग्रामिण मतदाताओ मे दिखा उत्साह     |     आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरण करने के मामले में न्यायालय ने किया 4 आरोपियों को दोषमुक्त     |     जैन पाठशाला प्रारंभ, जैन समाज द्वारा धार्मिक पाठशाला प्रारंभ     |     जवाहर नवोदय विद्यालय के प्राचार्य तिलक सिंह की सेवानिवृत्ति पर विदाई समारोह का हुआ आयोजन     |     कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने, पुलिस कप्तान के साथ मतदान केन्द्र का जायजा लिया     |     अलीराजपुर नगर की ऐसी भी आंगनबाड़ी है। जो दूर होने व बीच मे नदी होने पर माता पिता बच्चों को भेजने में डरते है। जानिये कहा है और कोनसे वार्ड में खास खबर में     |    

error: Content is protected !!