Ad2

बे रोजगारों की माग को लेकर दिये गये ज्ञापन के खिलाफ बडवानी पुलिस द्वारा की गयी FIR को निरस्त करने की माग

अलीराजपुर:- सामाजिक कार्यकर्ता सुमेरसिंह बड़ोले व पुलीस ने की अन्य द्वारा FIR को निरस्त करने बेरोजगारो के लिए रोजगार की मांग को लेकर दिए गए गए ज्ञापन के खिलाफ बड़वानी पुलिस द्वारा की गई गैर कानूनी FIR निरस्त करवाने के संबंध में।

उपरोक्त विषयान्तर्गत लेख है कि दिनांक 23/06/2021 को प्रदेश भर के बेरोजगार युवाओं द्वारा बेरोजगारी से त्रस्त होकर बेरोजगारी के खिलाफ, प्रदेश सरकार से रोजगार की मांग करते हुए प्रदेश स्तर पर ज्ञापन दिए गए व ट्विटर पर रोजगार के मुद्दे पर ट्रेंड चलाया गया।

इसी श्रंखला में बड़वानी में भी सामाजिक कार्यकर्ता सुमेरसिंह बड़ोले व अन्य बेरोजगार साथी पहले से फोन पर sdm बड़वानी व थाना प्रभारी एक दिन पूर्व ज्ञापन कार्यक्रम की सूचना देकर, वाहन सुविधा उपलब्ध न होने के कारण पैदल चलकर बेरोजगारी के खिलाफ रोजगार की मांग करते हुए ज्ञापन दिया गया किन्त बड़वानी पुलिस प्रशासन द्वारा कोरोना के नियमो का हवाला देकर, किसी के साथ पक्षपात न करने की अपनी सवैधानिक सपथ को भूलते हुए, बेरोजगारों के प्रति संवेदनहीन होते हुए गैर कानूनी तरीके से सुमेरसिंह बड़ोले व अन्य साथी के खिलाफ झूठी FIR दर्ज की गई। पुलिस के अनुसार रोजगार जो कि बेरोजगारो का सवैधानिक अधिकार है, की मांग करना गुनाह हो गया है।

 

सरकार और उसके गुलामो को बेरोजगारी के खिलाफ आवाज उठाने वाले लोग हजम नही हो रहे है, उनकी आवाज और मांगो को पुलिस की तानाशाही के माध्यम नेस्तनाबूद करना चाहती है। जबिकी ततकथित बड़ी राजनीतिक पार्टियों द्वारा सम्पूर्ण लॉकडाउन के दौरान भी धरने कार्यक्रम आयोजित किये गए, वर्तमान में भी नेताओ द्वारा गाइडलाइंस के पालन किए बिना हजारों की भीड़ जुटाई जा रही है लैकिन पुलिस उनके खिलाफ किसी भी तरह की कार्यवाही नही करती, जबकि गरीब, बेरोजगार, बेबस युवाओं के खिलाफ दमनपूर्ण रवैया अपना रही है, इससे बड़वानी पुलिस प्रशासन का असली चेहरा उजागार हो रहा है।

शासन – प्रशासन द्वारा अपनी नाकामियों छुपाने के लिए किए इस पक्षपात पूर्ण कृत्य के कारण प्रदेश भर के बेरोजगार युवाओ में आक्रोश व्याप्त है, अलीराजपुर जिले का आदिवासी समाज भी आक्रोशित है। प्रदेश भर में बड़वानी पुलिस के खिलाफ कार्यवाही की मांग की जा रही है।

अतः महोदय से निवेदन करते है कि सामाजिक कार्यकर्ता सुमेरसिंह बड़ोले व अन्य बेरोजगार साथियों के खिलाफ की गई झूठी, निराधार, अमानवीय, पक्षपातपूर्ण FIR तत्काल निरस्त की जावे अन्यथा प्रदेश भर में बेरोजगारों द्वारा उग्र आंदोलन किया जावेगा, जिसका आदिवासी छात्र संगठन, जयस व आदिवासी समाज अलीराजपुर सम्पूर्ण समर्थन करेगा व इससे किसी भी तरह की अव्यवस्था की स्थिति निर्मित होती है तो प्रदेश सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार होगी।

धन्यवाद!

निवेदक

आदिवासी छात्र संगठन, अलीराजपुर

आदिवासी समाज अलीराजपुर

 

 
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +918962423252

जोबट क्षेत्रान्तर्गत शिक्षिका के साथ हुई लूट के आरोपी का पता बताने पर एसपी ने 10-10 हजार नगद इनाम की घोषणा     |     सरपंच प्रतिनिधि कनेश ने पीडब्ल्यूडी अधिकारी और ठेकेदार और ठेकेदार के प्रोजेक्ट इंजिनियर की क्लास लगा दी     |     केंद्रीय विद्यालय अलीराजपुर में भरतनाट्यम कार्यशाला का आयोजन     |     जोबट विधायक सुलोचना रावत को हुआ ब्रेन हेमरेज     |     जिलेभर में पैसा एक्ट की जानकारी एवं जागरूकता हेतु ग्राम सभाओं का आयोजन     |     सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जोबट मैं तोड़े गए पुराने शौचालय नही की कोई वैकल्पिक व्यवस्था     |     इबादत टूर एंड ट्रेवल्स ने ट्रेनिंग का प्रोग्राम रखा गया     |     भीख मांगने के लिए मांगी तीन फीट जमीन दीया ज्ञापन     |     देश के सबसे बड़े संगठन जय आदिवासी युवा शक्ति संगठन ( जयस ) पर अभद्र टिप्पणी करने वाले मोहन नारायण शर्मा पर एफआईआर और एक्ट्रोसिटी की मांग कर सौपा ज्ञापन     |     बोहरा कब्रिस्तान मस्जिद में हुई चोरी पर्दाफाश, चोरी की वारदात करनें वाले 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार कर माल बरामद     |    

error: Content is protected !!