Ad2

प्रदेश में आदिवासियों का शोषण रूकवाकर बेहतर शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य और मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाएं प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री- विधायक पटेल

भगवान बिरसा मुण्डा की जयंती पर सोण्डवा के अट्‌ठा और कट्‌ठीवाडा में आयोजित कार्यक्रम में समाजजनों से बडी संख्या में शामिल होने का किया आव्हान

आलीराजपुर प्रदेश में विगत लंबे समय से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से भोले-भाले आदिवासियों के जो शोषण का क्रम चल रहा है उसे रूकवाकर आदिवासियों के लिए बेहतर शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य और मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने की और प्रदेश की सरकार ध्यान देना चाहिए। परंतु आदिवासी वोट बैंक को साधने के उद्देश्य से प्रदेश की राजधानी भोपाल में 15 नवंबर को भगवान बिरसा मुण्डा की जयंती पर वृहद आयोजन करके सिर्फ आदिवासियों को बरगलाने की कोशिश की जा रही है। ये बात आलीराजपुर विधायक मुकेश पटेल रविवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कही।

विधायक पटेल ने कहा कि प्रदेश में विगत महीनों में आदिवासियों के विरूद्ध कई वीभत्स और घोर निंदनीय घटनाएं कारित हुई जिसमें नेमावर में आदिवासी परिवार के सदस्यों की हत्या सहित मंदसौर जिले में आदिवासी को जीप से घसीटकर मार डालने जैसी घटनाएं हुई है। परंतु प्रदेश की शिवराज सरकार आदिवासियों का शोषण रोकने में पूरी तरह से विफल साबित हुई है। प्रदेश में आज सबसे ज्यादा शोषित और परेशान वर्ग है तो वो आदिवासी वर्ग ही है। आदिवासी युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है, यदि वे सरकार के पास रोजगार की गुहार लगाने जाते है तो उन्हें आश्वासन तक नहीं दिया जाता है बल्कि लाठी डंडो से पिटवाया जाता है। आज आदिवासियों को प्रदेश में कही भी बेहतर शिक्षा नहीं मिल पा रही है आलीराजपुर जिले में ही कई स्कूलों के ताले नहीं खुल रहे है और कई स्कूलों में शिक्षक ही नहीं है। आदिवासियों के इलाज के लिए विशेषज्ञ डॉक्टर और आवश्यक संसाधन उपलब्ध नहीं है जिसके कारण उन्हें इलाज के लिए दर-दर भटकना पडता है। आदिवासियों के नाम पर जो भी योजनाएं सरकार द्वारा संचालित की जा रही है उन योजनाओं में भारी भ्रष्टाचार व्याप्त है और योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आदिवासियों से भारी भरकरम रूपये दलालों व भ्रष्टाचारियों द्वारा ऐंठ लिए जाते है, आदिवासियों को उनके हक के बजट का रूपये का विकास कही भी देखने के लिए नहीं मिलता है। आज आदिवासियों के गांवों में न तो बेहतर सडके है, न बेहतर शिक्षा व्यवस्था है, न बिजली की पर्याप्त उपलब्धता है और न ही पेयजल के लिए कोई व्यवस्था है आदिवासी जैसे तैसे अभावों के बीच में अपना जीवन यापन करने को मजबूर है और सरकार विकास का दिखावटी ढिंढोरा पीटने में मशगूल है।

 
 
 
 
 

विधायक पटेल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने आदिवासियों के समुचित विकास हमेशा चिंता की है और उनके कल्याण के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं को क्रियान्वित किया है जिनका लाभ लाखों आदिवासी परिवारें ने प्राप्त किया है और कर रहे है। कांग्रेस पार्टी ने हमेशा आदिवासी वर्ग के हित में कार्य किया है। परंतु भाजपा आदिवासियों के वोट लेकर उनसे झूठे वादे करके वादाखिलाफी करते हुए उनके उत्थान के लिए कुछ नहीं करती है। सिर्फ वोट के रूप में आदिवासियों का उपयोग कर उन्हें उनके हाल पर छोड दिया जाता है। बिरसा मुण्डा की जयन्ती पर अट्ठा और कट्ठीवाडा में शामिल होने का किया आव्हान विधायक पटेल ने जिले के आदिवासियों से 15 नवंबर को भगवान बिरसा मुण्डा की जयंती पर अट्ठा और कट्‌ठीवाडा में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने का आव्हान करते हुए कहा कि भगवान बिरसा मुण्डा आदिवासियों की आवाज व नायक बने आज हमें उन्हीं के पदचिन्हों पर चलते हुए उनके इतिहास व विचारों के बारे में जानकर उनसे प्रेरणा व मार्गदर्शन प्राप्त करते हुए शोषण के खिलाफ आवाज उठाना होगी तभी आदिवासियों का समुचित विकास संभव होगा।

 
 
 
 
 
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +918962423252

गरीबों की थाली से राशन काला बाजारी तक , सेल्समैन के ऊपर घोटाले के लगे आरोप     |     आंगनवाड़ी सहायिका भर्ती में गड़बड़ी के आरोप     |     जय अम्बे मंदिर प्रांगण एव चारभुजा मंदिर प्रांगण गरबा मंडल द्वारा की जा रही है गरबा के माध्यम से मां की आराधना     |     पहली नवरात्रि से चल रहा हैं कन्या भोज का कर्यक्रम     |     अंचल में नवरात्र की धूम – राजस्थानी, गुजराती व आदिवासी ड्रेस कोड में युवक- युवतियां खेल रहे गरबा     |     कांग्रेस ने राष्ट्रपिता गांधी एवं पुर्व प्रधानमंत्री षास्त्री की जयंती मनाई     |     पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष दीपक चौहान के घर बोला चोरों ने धावा अनुमान लगाया जा रहा है कि लाखों की हुई है चोरी     |     वार्ड नंबर 15 मे चंदेरी बंधुओ ने दिखाया दम..जीतने के पश्चात वार्ड वासियो का माना आभार     |     मानव दुर्व्यापार की रोकथाम हेतु जागरुकता चेतना अभियान के तहत तात्कालीन भाषण‌ प्रतियोगिता का आयोजन कर छात्र छात्राओं को प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया गया     |     महामहिम राज्यपाल के निरिक्षण की संभावनाओ के चलते जिला चिकित्सालय मे ताबड़तोड़ हुई सफाई     |    

error: Content is protected !!