Ad2
Banner1

आरईएस विभाग की उदासिनता से जिले में हो रहे घटिया किस्म के निर्माण कार्य

विधायक पटेल ने तालाब, चैक डेम निर्माण कार्य का किया निरीक्षण

आलीराजपुर:- पंचायत ग्रामीण विभाग के अन्तर्गत स्वीकृत तालाब, चैक डेम, स्टाप डेम सहित सभी निर्माण कार्यो में आरईएस विभाग द्वारा निर्माण की सामग्री घटिया किस्म की लगाई जा रही हैं और किसी भी निर्माण कार्यो में काली गिट्टी का उपयोग नही किया जाकर बड़े-बड़े बोल्टर (पत्थर) का उपयोग किया जा रहा है। विधायक मुकेेश पटेल ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि गत रविवार को क्षेत्र भ्रमण के द्वौरान विकास खण्ड अलीराजपुर के ग्राम अजंदा में आरईएस विभाग द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्य का निरीक्षण किया गया। जिसमें यह पाया गया कि निर्माण कार्य में घटिया किस्म की सामग्री का उपयोग किया जा रहा हैं और स्थानिय ग्रामीणजन ने भी इन निर्माण कार्यो के सबंध में विधायक पटेल को शिकायत की गई है कि कार्य एजेंसी आरईएस होते हुए भी अन्य बिना किसी आधार के प्रायवेट ठेकदारो को मनमानी तरीके से ईई आरईएस अलीराजपुर द्वारा कार्य करवाया जा रहा है। संबंधित उप यंत्री, सहायक यंत्री द्वारा भी चल रहे निर्माण कार्यो का निरीक्षण नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण प्रायवेट ठेकेदारों द्वारा गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य किया जा रहा है। गुणवत्ताहीन व घटिया किस्म के निर्माण कार्य होने से शासकीय कार्य में वित्तीय अनियमित्ता की जा रही है। साथ ही विधायक पटेल ने बताया कि विगत दिनांक सोण्डवा क्षेत्र के ग्राम बेजड़ा में आरईएस विभाग द्वारा तालाब का निर्माण मजदूरों के बजाय मषीनो (जेसीबी, पोखलेन) द्वारा कराया जाने के संबंध में स्थानिय ग्रामीणो द्वारा जिले के प्रभारी मंत्री और जनसुनवाई में आवेदन दिया जाकर षिकायत की गई थी । जिस पर जिला प्रषासन द्वारा अभी तक कोई भी कार्यवाही नही की गई है। इससें यह स्पष्ट होता है कि जिला प्रषासन द्वारा भी घटिया किस्म और गुणवत्ताहीन निर्माण कार्यो को बढ़ावा दिया जा रहा है। विधायक पटेल ने शासन से मांग की है कि जिले में आरईएस विभाग द्वारा निर्माण कराए गये सभी कार्यो की जांच की जावे और संबंधित ईई, सहायक यंत्री और उपयंत्री के खिलाफ शासकीय कार्यो में वित्तीय अनियमित्ता किये जाने की कार्यवाही की जावे ।

भूमिपूजन में जनप्रतिनिधियों को अनदेखा किया जा रहा हैं

विधायक पटेल ने बताया है कि पंचायत ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत निर्माण कार्याे की कार्य एजेंसी आरईएस विभाग द्वारा स्वीकृत निर्माण कार्यो की भूमिपूजन कार्यक्रमों में ईई द्वारा स्थानिय जनप्रतिनिधियों को नही बुलाया जाता है।

यहा तक की ग्राम पंचायत के सरपंच को भी इसकी जानकारी नहीं दी जाती है कि आपकी ग्राम पंचायत में आरईएस विभाग द्वारा निर्माण कार्य प्रारंभ किया जा रहा है। जिले में इस प्रकार से कई निर्माण कार्य बिना जनप्रतिधियों की उपस्थिति के भूमिपूजन कर प्रारंभ करा दिये गए है। इस संबंध में जिला प्रषासन को संज्ञान में लेना चाहिए और यदि विभाग ने जनप्रतिनिधियों को नही बुलाया गया है या बिना जनप्रतिनिधियों को अवगत कराये कार्य प्रारंभ करा दिये गए है तो ईई आरईएस पर तत्काल कार्यवाही की जानी चाहिए।

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- +918962423252

ग्रीन सिटी-क्लीन सिटी आलीराजपुर अभियान के तहत पौधारोपण, ब्राह्मण समाज ने परशुराम वाटिका में 51 पौधे रोपे      |     युवा जागरूक नागरिक मंच ओर नगर की आमजनता के आह्वान पर बिजली विभाग के खिलाफ नागरिकों ने सड़को पर उतरकर नारेबाजी कर धरना-प्रदर्शन किया।     |     अवैध शराब से भरे 4 वाहन जप्त आबकारी विभाग की बडी कार्यवाही     |     शासकीय कन्या स्कूल सोरवा में मनाया गया प्रवेश महोत्सव,बच्चो का तिलक लगाकर किया स्वागत     |     आजाद नगर थाना प्रभारी द्वारा ग्रामीणों को गाली-गलोच ओर झूठे प्रकरणो मे फसा देने की धमकी देने वाले पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं..?     |     शासकीय कन्या उ.मा.वि.आलीराजपुर में प्रवेशोत्सव, मनाया गया, जाने क्या हुआ कार्यकम में।     |     महिला बाल विकास मंत्री सुश्री निर्मला भूरिया से मध्यप्रदेश आँगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका संघ सम्वद्ध भारतीय मजदूर संघ के पदाधिकारियों ने आँगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की समस्याओं के निराकरण हेतु मुलाकात की।     |     पुलिस महानिदेशक महोदय श्री सुधीर सक्‍सेना के निर्देश पर अलीराजपुर पुलिस की बदमाशों पर सख्‍त कार्यवाही, रातभर चला नाईट कॉम्बिंग ऑपरेशन     |     सहायक जेल अधीक्षक एवं जेल प्रहरी के पदों हेतु शारीरिक नाप जोख एवं प्रवीणता टेस्ट विषयक     |     “ऑपरेशन हेलो” के तहत गुमे हुए 55 मोबाइल बरामद किए गए, जिनकी कीमत 7,75000 मोबाईल आवेदकों को प्रदान किये गये।      |